BREAKING: ऋषिकेश एम्स में 23 साल की लड़की कोरोना पॉजिटिव

उत्तराखंड

ऋषिकेश एम्स (Rishikesh aiims Coronavirus) में शुक्रवार को एक और कोरोना पॉजिटिव मामला सामने आया है। इसके साथ ही अब प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 58 हो गई है।

उत्तराखंड से देर रात एक बड़ी खबर सामने आई है। ऋषिकेश एम्स (Rishikesh aiims Coronavirus) में एक 23 साल की लड़की में कोरोनावायरस पॉजिटिव पाया गया है। जी हां ऋषिकेश एम्स में अब यह कोरोना संक्रमण का पांचवां मामला है। बताया जा रहा है कि लड़की वहां पर इंटर्न का काम करती है। लड़की बीते 28 दिनों से किसी के संपर्क में नहीं आई थी।

वह 16 अप्रैल से इमरजेंसी वार्ड में काम कर रही थी। 28 अप्रैल को उसमें कोरोना संक्रमण के लक्षण पाए गए थे। इसके बाद उसे क्वॉरेंटाइन कर दिया गया था। शुक्रवार को जो रिपोर्ट आई है उसमें वह कोरोना पॉजिटिव पाई गई है। इसके साथ ही उत्तराखंड में कोरोनावायरस मरीजों की संख्या बढ़कर 58 हो गई है। ऋषिकेश एम्स में संक्रमित मरीजों की संख्या पांच हो गई है। इनमें से एक महिला मरीज की मौत शुक्रवार को ब्रेन हैमरेज के कारण हो चुकी है।

एम्स (Rishikesh aiims Coronavirus) प्रशासन ने अतिरिक्त सतर्कता बरतना शुरू कर दिया है। जागरण की खबर के मुताबिक यहां ड्यूटी करने वाले डॉक्टर, नर्सिंग स्टाफ और कर्मचारी फिलहाल अपने घर नहीं जाएंगे। इन्हें होटल में ठहराया जाएगा। इसके लिए प्रशासन ने 8 होटल और एक आश्रम को चिन्हित किया है। प्रशासन ने एम्स में काम कर रहे फ्रंट लाइन वर्करों की सुरक्षा के लिए कई इंतजाम किए हैं।

इनके रहने के लिए 8 होटल और एक आश्रम चिन्हित करने के साथ ही क्वारेंटीन सेंटर के रूप में सीमा डेंटल कॉलेज और जीएमवीएन गेस्ट हाउस का चुनाव किया गया है।एम्स के डॉक्टर्स-कर्मचारियों को होटल नटराज, होटल अमेरिस, नीरज भवन, होटल गंगा किनारे, होटल गंगा व्यू, होटल सुरुचि और होटल बसेरा में ठहराया जाएगा। इसके अलावा होटल कैलाश गंगा और जयराम आश्रम में भी स्वास्थ्यकर्मियों के रहने के इंतजाम किए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *