चीन सीमा के पास की दो सड़कों को भारत क्यों करेगा चौड़ी,

देश

चीन सीमा से लगी चमोली जिले की दो सड़कों के चौड़ीकरण का रास्ता साफ हो गया है। इनके विस्तार के लिए 15 से ज्यादा गांवों की जमीन के अधिग्रहण के बदले उन्हें मुआवजा दिया जाएगा।  मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया।

चीन सीमा को जोड़ने वाला जोशीमठ-मलारी और कुरकोटि-गमशाली-नीति मार्ग कई स्थानों पर संकरा है। इसके चौड़ीकरण न होने से सेना के वाहनों की आवाजाही में दिक्कतें आती है। ये सड़कें 60 के दशक में बनाई गई थी।

इन सड़कों के चौड़ीकरण में 15 से ज्यादा गांवों की जमीन आड़े आ रही थी। अब इनके अधिग्रहण पर सहमति बन गई है। मलारी मार्ग पर लगभग 31किमी तो गमशाली-नीति मार्ग पर 20 किमी अब चौड़ा हो सकेगा। इनके चौड़ीकरण के लिए 35 हेक्टेयर जमीन का अधिग्रहण होना है।

इनके बनने से सेना के साथ ही आसपास के लोगों के वाहन सरपट दौड़ सकेंगे। इस बैठक में  सचिव (राजस्व) सुशील कुमार और बीआरओ के मुख्य अभियंता एएस राठौर भी मौजूद रहे। सचिव सुशील कुमार ने बताया कि जल्द ही दोनों सड़कों के विस्तार के लिए जमीन के अधिग्रहण का काम शुरू किया जाएगा।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *