उत्तराखंड में गंगा-यमुना की आरती होगी एक साथ

उत्तराखंड भक्ति

विकासनगर में बाड़वाला में यमुना तट पर गंगा-यमुना की आरती की जाएगी। इसके लिए सुंदर और सुविधाजनक घाट बनाए जाएंगे। गुरुवार को यमुना कॉलोनी में सिंचाई विभाग की बैठक के दौरान सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज ने ये बात कही। 

महाराज ने पर्यटन और रोजगार के लिहाज से भी काम करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा, आरती और घाटों के निर्माण से यहां पर्यटक आकर्षित होंगे।

उन्होंने नदियों का पानी छोड़ने को लगाए वार्निंग सिस्टम सटीक और आधुनिक करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने नमामि गंगे के तहत बने घाटों पर विद्युत शवगृह बनाने के भी निर्देश दिए।

बैठक में सिंचाई सलाहकार अतर सिंह असवाल, सचिव सिंचाई नितेश झा, प्रमुख अभियंता मुकेश मोहन सहित सिंचाई विभाग एवं लघु सिंचाई विभाग के अधिकारी मौजूद थे।

आउटसोर्स से भरें पद : महाराज ने सिंचाई विभाग और लघु सिंचाई विभाग में कर्मचारियों की कमी को पूरा करने के लिए आउटसोर्सिंग से भर्ती करने के निर्देश दिए।

उन्होंने विभाग में नलकूप ऑपरेटर और सींचपाल के खाली पदों पर भी भर्ती के आदेश दिए। उन्होंने कोरोनाकाल में प्रदेश में लौटे प्रवासियों के लिए भी रोजगार के अवसर पैदा करने को कहा।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में जल संचय को तालाब बनाने, मछली पालन और अन्य काम कर रोजगार बढ़ाया जा सकता है। इसके अलावा अन्य कामों में भी जल संरक्षण के साथ रोजगार देने के अवसर तलाशने को कहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *