सोमवती अमावस्या : हर की पैड़ी सील, धारा-144 लगी

उत्तरप्रदेश

सोमवती अमावस्या स्नान रद होने के बाद हरकी पैड़ी को दो दिन (रविवार और सोमवार) के लिए सील कर दिया है। रविवार को हरकी पैड़ी पूरी तरह सील रही। किसी को भी हरकी पैड़ी पर आने-जाने नहीं दिया गया। यहां 50 पुलिसकर्मियों की अतिरिक्त ड्यूटी लगाई गई। उधर एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय और सीओ सिटी डॉ. पूर्णिमा गर्ग ने हरकी पैड़ी आकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। वहीं रविवार से जिले में धारा 144 भी लागू हो गई, जो सोमवार रात तक जारी रहेगी। पिछले साल शिवरात्रि से कुछ घंटे पहले तक हरकी पैड़ी से 60 से 70 लाख कांवड़िये रवाना हुए थे। लेकिन इस बार यहां सन्नाटा पसरा रहा।

रविवार को शिवालयों में जलाभिषेक और सोमवार को होने वाली सोमवती अमावस्या को देखते हुए पुलिस ने जिले की सीमाओं को सील कर दिया है। रविवार और सोमवार को धारा-144 भी लगाई गई है। रविवार को पुलिस पूरी तरह ड्यूटी पर मुस्तैद नजर आई। कोई भी हरकी पैड़ी तक न पहुंचे इसके लिए पूरे घाट क्षेत्र को सील किया गया।

हरकी पैड़ी चौकी, सीसीआर टावर, सुभाष घाट, कांगड़ा घाट, संजय पुल, पंतद्वीप से मालवीय घाट के एंट्री प्वाइंट पर बैरियर लगाये गए। रविवार को किसी को भी हरकी पैड़ी नहीं जाने दिया गया। सोमवार को भी हरकी पैड़ी को सील रखा जाएगा। हालांकि सुबह और शाम की गंगा आरती हुई, लेकिन आरती में पुरोहितों के अलावा किसी को शामिल नहीं होने दिया गया। इसके लिए पुलिस ने पहले ही व्यवस्थाएं बना ली थीं। दो दिन के लिए हरकी पैड़ी पर एक इंस्पेक्टर के अलावा आठ दरोगा, 25 कांस्टेबल, 10 महिला कांस्टेबल समेत 50 पुलिसकर्मियों की अतिरिक्त ड्यूटी लगाई गई थी। 

दूसरे घाटों पर किया स्नान

कुछ लोगों ने पंतद्वीप घाट के आसपास स्नान किया। हालांकि सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने इन लोगों को वापस भेज दिया। 

आज होगी चुनौती

सोमवार को सावन की सोमवती अमावस्या है। जिसका अन्य सोमवती अमावस्या से 1000 गुना महत्व माना जाता है। ऐसे में स्थानीय लोगों को गंगा स्नान से रोकना पुलिस के लिए किसी चुनौती से कम नहीं होगा।

हरकी पैड़ी पर दो दिन तक किसी को भी एंट्री करने की अनुमति नहीं है। कर्मकांड भी बंद किये गए हैं। लोगों से अपील है कि गंगा स्नान को न निकलें।  
कमलेश उपाध्याय, एसपी सिटी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *