कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम समेत 150 पर दर्ज हुआ केस

उत्तराखंड राजनीति

बीते सोमवार को उत्तरकाशी में पेट्रोल, डीजल, महंगाई, भ्रष्टाचार और बेरोजगारी को लेकर बिना अनुमति प्रदर्शन करना कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं को भारी पड़ गया है।

पुलिस ने शहर में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुये कोविड-19 के मजिस्ट्रेट की तहरीर पर नियमों का उलंघन करने पर प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह समेत 150 कांग्रेसियों के खिलाफ कोरोना वायरस को फैलने के आरोप में आपदा प्रबंधन समेत विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर दिया है।

बीते रोज कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने उत्तरकाशी में महंगाई, भष्टाचार, बेरोजगारी समेत स्थानीय मुद्दों को लेकर शहर में रैली निकालकर प्रदर्शन किया।

हनुमान चैक में सभा भी की गई। बीते रोज उत्तरकाशी बाजार में तीन लोगों की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आई है। जिस स्थान पर कांग्रेसियों ने सभा की उससे 100 मीटर दूर दो लोगों की कोरोना रिपोर्ट आई है।

कांग्रेसियों ने पूरे बाजार सहित जिला मुख्यालय तक रैली निकाली। रैली और सभा के दौरान सामाजिक दूरी का कोई अनुपालन नहीं किया गया।

कार्यक्रम के लिये जिला प्रशासन की भी अनुमत नहीं ली गई। प्रशासन की ओर से जुलूस, सभा कार्यक्रम की वीडियों ग्राफी करने के लिये कोविड-19 मजिसट्रेट तैनात किये गये। कोविड 19 के नियमों को तोड़ने वालों के खिलाफ प्रशासन की ओर से पहले ही मजिस्ट्रेटों को कार्रवाई करने के निर्देश दिये हुये हैं।

कांग्रेसियों की ओर से जुलूस प्रदर्शन में कोविड 19 के नियमों का खुलआम उलघंन करने पर पुलिस ने कोविड मजिस्ट्रेट की तहरीर पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह, पूर्व विधायक विजय पाल सिंह सजवाण, नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष रमेश सेमवाल, पूर्व प्रमुख कनक पाल परमार समेत 150 लोगों के खिलाफ आपदा प्रबंधन एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया है। मुकदमा दर्ज होने पर कांग्रेसियों की समस्या बढ़ गई है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *