एटीएम फ्रोड़ों से अब सेफ़ रहेगा आपका कार्ड -जानें कैसे

उत्तराखंड देश

नई दिल्ली-कोरोना काल में एटीएम से जुड़ी धोखाधड़ी के मामले तेजी से बढ रहे हैं। इस धोखाधड़ीसे बचने के लिए ऐसे में भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने ग्राहकों सेविंग सुरक्षित रखने के लिए सुविधा शुरू की है। नई सर्विस के तहत अगर आप एटीएम में जाते हैं और अपना बैलेंस या मिनी स्टेटमेंट चेक करना चाहते हैं तो एसबीआई आपको एसएमएस भेजकर अलर्ट करेगा।

नजर अंदाज ना करें एसएमएस अलर्ट

एसबीआई ने ट्वीट में कहा है कि अब जब भी ग्राहक एटीएम से बैलेंस इंक्वायरी या मिनी स्टेटमेंट चेक करेगा, तो एसबीआई उस डेबिट/एटीएम कार्ड से संबंधित ग्राहक को एसएमएस भेजकर अलर्ट करेगा। ऐसा इसलिए ताकि यह कन्फर्म किया जा सके कि ट्रांजेक्शन ग्राहक कर रहा है या उसके डेबिट कार्ड से कोई और। अगर ट्रांजेक्शन कोई और कर रहा है तो बैंक के एसएमएस से ग्राहक को ट्रांजेक्शन की सूचना मिलने पर वह तुरंत अपना डेबिट कार्ड ब्लॉक करा सकेगा। बैंक ने अपने ग्राहकों को सतर्क रहने को कहा है। इस एसएमएस अलर्ट को बिल्कुल भी नजर अंदाज ना करें।

मिस्ड कॉल से चेक करें अपना बैलेंस

भारतीय स्टेट बैंक अकाउंट होल्डर्स अपने एसबीआई क्विक ऐप के जरिए अपने अकाउंट का बैलेंस चेक कर सकते हैं। इस ऐप के साथ, एसबीआई ग्राहकों को इंस्टेंट अकाउंट बैलेंस, मिनी स्टेटमेंट मिल सकता है। उन्हें केवल एक मिस्ड कॉल देना होगा या एसबीआई बैलेंस पूछताछ टोल फ्री नंबर – 9223766666 पर अपने रजिस्टर मोबाइल नंबर से एक भेजना होगा, कुछ ही सेकंड में, वे अपने फोन पर बैलेंस डिटेल्स प्राप्त करेंगे। इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए, एसबीआई ग्राहकों को यह सुनिश्चित करना होगा कि उनका मोबाइल नंबर बैंक के पास रजिस्टर है या नहीं। आपको बता दें कि हाल ही में एसबीआई ने खाताधारकों को राहत देते हुए कुछ शुल्क खत्म किए थे। इनमें एसएमएस अलर्ट और न्यूनतम बैलेंस शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *