तेंदुए के हमले से वृद्धा की मौत

उत्तराखंड क्राइम

रानीखेत, : उत्तराखंड में आये दिन तेंदुआ का खतरा बढता ही जा रहा है! वहीँ रानीखेत तहसील के सुदूर पस्तौडा़ पार गांव की सरहद पर एक वृद्धा का क्षत विक्षत शव मिलने से हड़कंप मच गया। परिजनों ने वृद्धा के तेंदुए के हमले में मारे जाने की आशंका जताई है। परिजनों के अनुसार तेंदुए ने कई जगह नाखून व दांत गड़ाए हैं।हालाकिं वृद्धा के शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए उसे नागरिक चिकित्सालय भेजा गया है।

ग्रामीण प्रकाश बुधोड़ी के अनुसार उनकी माता रेवती देवी (70) बीते 30 अगस्त की शाम छह बजे घास काटने गई थी, लेकिन उसके बाद वह घर नहीं लौटी। 31 अगस्त को राजस्व उपनिरीक्षक को सूचना दी गई। राजस्व उपनिरीक्षक ने एक दिन और खोजबीन करने का सुझाव दिया। एक सितंबर को फिर से खोजबीन की गई। देर रात पस्तौडा पार गांव की सरहद से सटे जंगल में उनका क्षत विक्षत शव बरामद हुआ।

परिजनों के अनुसार शरीर में कई जगह नाखून व नोचने के ‌निशान हैं। गाल और हाथ का मांस भी नोचा है। सूचना पर मौके पर राजस्व पुलिस तथा वन विभाग के अधिकारियों ने मुआयना भी किया। इसके बाद पंचनामा भर शव पोस्टमार्टम के लिए गोविंद सिंह माहरा नागरिक चिकित्सालय भेज दिया गया है।

देवलीखेत के राजस्व उपनिरीक्षक उमेश नयाल ने बताया कि शव के मुंह, हाथ, पांव में कुछ निशान मिले हैं। लेकिन कहा नहीं जा सकता है कि तेंदुए का हमला है या कोई और अन्य जानवर का। शव दो दिन पुराना है। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के असली कारणों का पता चल पायेगा!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *