यहाँ पत्थर फेंककर देवी को करते हैं प्रसन्न

चम्पावत – उत्तराखंड में है एक ऐसा मंदिर जहाँ पर भाई-बहन के पवित्र प्रेम का प्रतीक रक्षाबंधन को एक अनोखे ढंग से मनाया जाता है. यहाँ पर एक-दूसरे पर पत्थर फेंककर देवी को प्रसन्न किया जाता है. उत्तराखंड के चंपावत जिले में स्थित देवीधुरा के मंदिर के प्रांगण में सैकडों स्थानीय लोग इकटठे होते हैं […]

Continue Reading

परिजनों को आशीर्वाद देने पृथ्वी पर आते हैं पूर्वज

हिन्दू धर्म के अनुसार माना जाता है कि पितृपक्ष में 16 दिनों की अवधि के दौरान सभी पूर्वज अपने परिजनों को आशीर्वाद देने के लिए पृथ्वी पर आते हैं. उन्हें प्रसन्न करने के लिए तर्पण, श्राद्ध और पिंड दान किया जाता है.कहा जाता है कि जो लोग अपने पूर्वजों का पिंडदान नहीं करते हैं उन्हें […]

Continue Reading